गांड मार लो मेरी बाबू

Gaand maar lo meri babu:

Desi chudai ki kahani, antarvasna मैं अपने घर से निकला ही था क्योंकि मुझे अपने मामा जी से मिलना था मेरी मम्मी काफी दिनों से कह रही थी तुम मामा के घर हो आओ लेकिन मुझे समय नहीं मिल पा रहा था इसलिए मैं अपने मामा से नहीं मिल पाया। जब मैं मामा से मिलने के लिए गया तो मैंने देखा घर पर कोई नहीं था मैंने मामा जी को फोन किया तो उनका नंबर भी नहीं लग रहा था मैंने पड़ोस में पूछा कि वह लोग कहां गए हैं तो मुझे उनके पड़ोस में रहने वाली एक महिला ने बताया कि उनकी मम्मी की तबीयत खराब हो गए थी इसलिए उन्हें अस्पताल लेकर जाना पड़ा और उनका पूरा परिवार अस्पताल गया हुआ है।

मैं यह बात सुनकर बहुत ज्यादा परेशान हो गया लेकिन मुझे उस वक्त यह समझ नहीं आया कि मुझे क्या करना चाहिए मैंने सोचा मैं पहले अस्पताल जाऊं या फिर मम्मी को फोन करू लेकिन मैंने उस वक्त अस्पताल जाना ही बेहतर समझा। मैं अस्पताल चला गया जब मैने मामा जी और मामी जी की देखा तो वह काफी  परेशान नजर आ रहे थे। मैने मामा जी से कहा नानी को क्या हुआ तो वह कहने लगे बेटा पता नहीं कैसे उनका पैर सीढियों से फिसल गया और उनके सर पर बहुत ज्यादा चोट आई है। मुझे भी कुछ समझ नहीं आ रहा था लेकिन मैंने अपनी मम्मी को फोन किया मेरी मम्मी भी कुछ देर बाद अस्पताल में आ गई। जब वह अस्पताल में आई तो वह भी बहुत परेशान हो गई थी तभी डॉक्टर बाहर आए। जब मामा ने डॉक्टर से पूछा कि अब कैसी तबीयत है तो वह कहने लगे अब तो ठीक है लेकिन उनके सर से काफी खून निकल आया था जिस वजह से वह बेहोश हो गई थी लेकिन अब वह पहले से ठीक हैं और आप लोगों उनसे मिल लीजिए। जब हम लोग नानी से मिले तो मम्मी ने नानी से पूछा आखिर आपका पैर कैसे फिसला तो वह कहने लगी मुझे भी पता नहीं चला कि कब मेरा पैर फिसला और उसके बाद मैं सीढ़ियों से बड़ी तेजी से नीचे गिरी। हमने नानी से कहा आप आराम कर लीजिए वह आराम करने लगी।

कुछ दिनों तक डॉक्टर ने उनको अस्पताल में ही रखा लेकिन मुझे कुछ समझ नहीं आया आखिर नानी का पैर कैसे फिसल गया, मुझे मेरी मामी पर पूरा शक था उन्होंने ही नानी के साथ ऐसा किया होगा क्योंकि वह नानी को बिल्कुल भी पसंद नहीं करती थी। मैंने जब अपनी मामी से इस बारे में पूछा कि क्या आपको मालूम है कि नानी जी कैसे फिसली तो वह कहने लगी मुझे तो इतना ही मालूम है कि वह सीढ़ियों से नीचे गिर गई थी। मैं उसको किचन में खाना बना रही थी जैसे ही मैंने देखा तो उनके सर से काफी खून निकल रहा था मैं बहुत ज्यादा घबरा गई थी उसके बाद मैंने तुम्हारे मामा को फोन किया और उन्हें घर आने के लिए कहा। वह भी जब घर आए तो उन्होंने भी तुम्हारी नानी को देखा तो वह बहुत घबरा गए थे उसके बाद हम लोगों उनको अस्पताल लेकर चले गए मुझे इस बारे में इतनी ही जानकारी है लेकिन मैं उनकी आंखों में देखकर यह बता सकता था कि वह झूठ कह रही हैं और कुछ ना कुछ तो वह छुपा रही थी। फिलहाल तो मुझे इस बात की चिंता थी की नानी जी की तबीयत कैसे ठीक होगी हम लोग नानी का पूरा ध्यान रखते जैसे ही नानी थोड़ा बहुत ठीक होने लगी थी। एक दिन नानी ने मुझे कहा बेटा जाने ऐसा क्या हुआ कि मेरा पैर वहां से फिसल गया मुझे ऐसा लगा कि जैसे सीढ़ियों पर कुछ तो गिरा हुआ था जिसकी वजह से मेरा पैर फिसला है। मेरे दिमाग में शक की सुई घूम चुकी थी मैं यह बात तो समझ चुका था कि यह सब मेरी मामी का ही किया धरा है। मामी मेरी नानी के साथ पहले भी एक दो बार ऐसा ही कर चुकी थी और उन दोनों के बीच काफी झगड़े भी होते रहते हैं लेकिन मैंने कभी सोचा नहीं था कि मामी इतना ज्यादा नीचे गिर जाएंगे। मुझे तो इस बात की चिंता थी कि यदि नानी को कुछ हो जाता तो उसकी जिम्मेदारी कौन अपने सर पर लेता क्योंकि यह सब तो मामी ने ही किया था। इस बात को काफी समय हो चुका था नानी पूरी तरीके से ठीक हो चुकी थी लेकिन नानी ने अब मेरी मामी से बात करना बंद कर दिया था वह उनसे बिल्कुल भी बात नहीं किया करती थी क्योंकि उन्हें यही लगता था कि यदि वह उनसे बात करेंगे तो वह उनसे झगड़ा करेंगी।

मामा जी को भी कई बार इस वजह से परेशानी का सामना करना पड़ता था लेकिन फिर भी वह मामी को समझाते लेकिन मामी का नेचर तो बिल्कुल भी ठीक नहीं था और वह किसी की भी बात सुनने को तैयार नहीं रहती थी। एक दिन में नानी से मिलने गया हुआ था उस दिन उनके पड़ोस में रहने वाली आंटी आई हुई थी मैं दूसरे रूम में बैठा हुआ था। वह लोग आपस में बात कर रहे थे मैंने उनकी बात सुनी पड़ोस में रहने वाली आंटी ने मेरी मामी से कहा अरे उस दिन सीढ़ियों पर तुमने जो तेल गिरा दिया था उससे तुम्हारी सास को बहुत नुकसान हो सकता था और तुमने यह बहुत गलत किया तुम्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था। मामी की पूरी पोल खुल चुकी थी मुझे यह बात पता चल चुकी थी कि इन्होंने ही नानी को जानबूझकर सीढ़ियों से गिराने की कोशिश की है लेकिन मुझे इतनी उम्मीद नहीं थी कि मामी ऐसा भी कर सकती हैं। वह बहुत ज्यादा गिर चुकी थी उन्हें नानी के साथ ऐसा नहीं करना चाहिए था आंटी और मामी अब भी बात कर रही थी जब आंटी चली गई तो उसके बाद मैंने अपनी मामी को कहा मैंने आप लोगों की बातें सुन ली थी। मुझे अब सब मालूम पड़ चुका है अपने नानी के साथ में क्या किया आपको ऐसा बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए था आपको थोड़ी भी शर्म होती तो आप कभी भी ऐसा नहीं करती लेकिन आपने तो सारी सीमाए पार कर दी है। उनकी गर्दन शरम से नीचे झुक चुकी थी क्योंकि इसमें उनकी सारी गलती थी और जिस वजह से नानी की जान भी जा सकती थी।

मुझे अपनी मामी पर बहुत गुस्सा आ रहा था मैं सोच रहा था मैं यह बात अपने मामा को बता दूं जब मैंने उनसे यह कहा कि मैं यह बात मामा जी को बता दूंगा तो वह मेरे सामने हाथ जोड़ने लगी और कहने लगी तुम यह बात अपने मामा को मत बताना। मैंने उन्हें कहा लेकिन मैं यह बात मामा को जरूर बताऊं आप दोबारा से ऐसी हरकत कर सकती हैं क्योंकि आपका कोई भी भरोसा नहीं है मैं आप पर बिल्कुल भी भरोसा नहीं कर सकता जिस प्रकार से अपने नानी जी के साथ किया है। ऐसा तो कभी कोई किसी दुश्मन के साथ तक नहीं करता लेकिन उन्हें शायद मेरी बात से कोई फर्क नहीं पड़ने वाला था मैं उस दिन तो अपने घर चला गया। मैं यह सोचता रहा मैं क्या यह बात मामा जी को बताऊ लेकिन मैंने फिलहाल उन्हें यह बात नहीं बताई और कुछ दिनों के लिए में मामा जी के घर पर ही रहने के लिए चला गया। मामी की अब भी वही स्थिति थी वह नानी के साथ झगड़ा कर रही थी और बेवजह उन्हें अनाप-शनाप कह रही थी मुझे इस बात का बहुत गुस्सा आया मैंने उन्हें कहा आप अभी चुप हो जाइए मैं आज शाम को मामा जी को सारी बात बता दूंगा। मुझे अपनी मामी पर बहुत ज्यादा गुस्सा आने लगा था मैं अपने गुस्से को बिल्कुल भी काबू नहीं कर पाया मैंने उन्हें कहा आपने आपनी हद पार कर दी है मैं बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं कर पाऊंगा। मैंने उनके बदन को देखा तो मेरा मन उनकी गांड मारने का होने लगा। मै उनकी गांड मारना चाहता था क्योंकि जिस प्रकार से वह सोचती थी उस समय उनकी गांड मारकर मै अपने गुस्से को शांत करना चाहता था। मैंने अपने लंड को बाहर निकाल लिया वह मेरे लंड को देखकर डर गई वह कहने लगी तुम्हारा लंड तो बहुत मोटा है।

मैंने उन्हें कहा अभी तो यह और भी मोटा होगा उन्होंने मेरे लंड को हाथ में लिया और वह कहने लगी तुम अपने मामा को कुछ मत बताना। उन्होंने कहा मैं कुछ नहीं बताऊंगा लेकिन आप इसे अपने मुंह में ले लो और मुझे पूरे मजे दो। उन्होंने मेरे लंड को अपने गले तक ले लिया और उसे अच्छे से चूसने लगी, वह मेरे लंड को बड़े ही अच्छे से चूसती। उन्होंने मुझे काफी देर तक मजे दिए मेरा लंड पूरी तरीके से खड़ा हो गया तो मैंने उन्हें कहा अब घोड़ी बन जाओ। वह मेरे सामने घोड़ी बन गई उन्होंने अपनी साड़ी को ऊपर किया मैंने उनकी योनि के अंदर अपने लंड को प्रवेश करवा दिया जैसे ही मेरा लंड उनकी योनि के अंदर प्रवेश हुआ तो मैं उन्हें बड़ी तेजी से धक्के मारने लगा। मैं उनकी योनि के मजे अच्छी तरीके से ले रहा था उनकी चूत से चिपचिपा पदार्थ बाहर की तरफ निकलने लगा था मुझे उनको धक्के देने में बहुत आनंद आ रहा था लेकिन कुछ ही देर बाद मेरा वीर्य पतन होने वाला था। मैंने उन्हें कहा आप अपने मुंह के अंदर मेरे वीर्य को ले लो उन्होंने अपने मुंह के अंदर मेरे वीर्य को ले लिया लेकिन मेरी इच्छा तो उनकी गांड मारने की थी।

मैंने अपने लंड पर सरसों का तेल लगाया और उनकी गांड के अंदर डाल दिया जैसे ही मेरा लंड उनकी गांड के अंदर प्रवेश हुआ तो वह चिल्लाने लगी और मुझे कहने लगी मुझे बड़ा मजा आ रहा है मैं उनको मजा देना नहीं चाहता था। मैंने उन्हें बड़े तेजी से धक्के देने शुरू किए मैंने उन्हें नॉनस्टॉप धक्के मारने शुरू कर दिए जिससे उनकी गांड मे दर्द होने लगा जिससे कि मेरा लंड बुरी तरीके से छिल चुका था लेकिन उनकी गांड से भी खून आने लगा था और वह चिल्लाने लगी। वह मुझसे कहने लगी मुझे बहुत दर्द हो रहा है परंतु मैंने उन्हें छोडा नहीं मै बड़ी तेज गति से उनको धक्के देता रहता और अपनी इच्छा को मैं पूरा करता रहा। मेरी इच्छा भी पूरी हो गई और उसके बाद मैंने उन्हें समझाया आज के बाद आपने यदि नानी को परेशान किया तो मैं आपको छोड़ने वाला नहीं हूं मै मामा को आपकी सारी असलियत बता दूंगा और उसके बाद तो आप जानती ही हैं कि मामा आपके साथ क्या करेंगे।


Comments are closed.




bhai behan ki sexy hindi storyfree shemale sex storiessuhagraat chudai kahanihindi sex story and imagelund ka majawww,mrati bhai bhanki chudai ii sexkhaniya compehli bar नौकरानी के पति से गण्ड खून सेक्स स्टोरी हिंदीdevar sali ki chudaianter vasna kahani chil pakbete se chudwayaभाभी की चुदाई शैतान ने कीbaap beti ki chudai ki videoaunty ki choot storysax story handiवाराणसीचुदाईmaa ki chudai kahanibalatkar ki kahani hindi mebahan chudai storyBahnawari bibi ka kis tarh aata hai Sexi video hot aunty sexchudai wali hindi kahanibua ke chodafir sex storykamuktatantrik.comghar me gand marichudai kahani behan kibhabi ke sathvergen nayi bhabhi ka jabardasti samuhik gangrape antarvasna gandi kahaniwww chudai ki khaniyabhabhi ko pelamoti aunty ko chodaxxx bhai bhanmaa ko choda hindi kahaniचाची की नाभि देखकर खेत मे चोदाpatient ki chudainayi kahani chudai kiमेरा पति गेय है और ेस्क्सgujarati chudai storyनगी शादी सामूहीक चुदाई भाग 3lesbian sex kahanisexy story in bhojpurinepali ko chodaरानीमुखरजी कानंगा फोरेन चुदाई वीडीयोmaa ki chudaikamuk comsex chodai ki kahanimammy sexgaram chootrenu ki chuthind saxy storyrasili chut ki photooffi cechodailund me chootpapa ne seal todipahli baar chudai videosexi kahnididi ki bur ki chudaimunya ladki dekha kar mare xxx videohindy sax storyमाँ or bahan ने शमले से छुड़वाया की चुदाई की कहानी हिंदी सेक्स स्टोरीजall chudai storydesi dulhan sexbat karte haua boor chodaixxxhindi open sexchut ka kamalgaram karke chodachoda behan kochudakkar Parivar antervashna hindi storyमुझे बुर चोदना है गओं की क्सक्सक्सgadhi ki chudaichachi ki chudai new storymaa chudai ki kahani hindi mechut ki pyas ki kahanistory xxx hindi melarke ke chudaihot chudai kahanimaa ki choot storyhindi antarvasna chudai kahaniधोखे से कुंवारी चूत की चुदाई कहानियाँheroine sex storiesboor me chudaiMaa ne chadaya lund par condumbhabhi ki chudai hindiWife ko chudwane ki wish xossip